Apna Khata पोर्टल पर नामांतरण के लिए आवेदन कैसे करें?

ADVERTISEMENT

यदि आप राजस्थान राज्य के निवासी हैं और आपको भूमि से संबधित किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए तो आपको पता होगा कि राजस्थान लैंड रिकॉर्ड पोर्टल पर विजिट करके भूमि से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, यह पोर्टल पूरी तरह से ऑनलाइन और मोबाइल फ्रेंडली है, इस पोर्टल के जरिए आप राजस्थान राज्य में भूमि से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

यदि आप नामांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के बारे में किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि मैं आपको आज अपना खाता पोर्टल के जरिए नामांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें के बारे में विस्तार से बताने वाला हूं, आप इस लेख को पढ़कर बिना किसी की सहायता से आप घर बैठे अपना खाता नामांतरण के लिए आवेदन कर सकते हैं।

अपना खाता नामांतरण के लिए आवेदन कैसे करें?

आपको अपना खाता नामांतरण के लिए आवेदन करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा -

  • सबसे पहले आपको राजस्थान अपना खाता की आधिकारिक http://apnakhata.raj.nic.in/ पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का मुख्य पृष्ठ खुल जाएगा, उसमें आपको सबसे उपर "नामांतरण के लिये आवेदन करें" पर क्लिक करना होगा।
नामांतरण के लिये आवेदन करें
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुलेगा उसमें आपको आवेदक का नाम, आवेदक के पिता का नाम, मोबाइल नंबर, ई मेल, आवेदक का पता, जिला, तहसील, गांव, नामांतरण के लिए किस प्रकार का आवेदन करना चाहते हैं" का चयन करना होगा।
  • फिर इसके बाद नीचे स्थित "आगे चलें" वाले बटन पर क्लिक करें।
आगे चलें
  • ऐसा करते ही नीचे आपको खाता संबंधी जानकारी पूछी जाएगी, जिसमें आपको हां या नहीं के सामने रेडियो बटन रहेंगे आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • फिर इसके बाद आपको खसरा से संबंधित जानकारी पूछी जाएगी।
नोट – यदि आपके पास खाता संख्या या खसरा संख्या की जानकारी नहीं है तो आप नामांतरण के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं।)
  • आपको खाता संख्या या खसरा संख्या में से किसी एक की जानकारी भरनी होगी, ऐसा करते ही नीचे आपके सामने खाता या खसरा से संबंधित आपकी जानकारी आ जाएगी आपको उसमें से अपने खाते या खसरे पर टिक करना होगा और नीचे स्थित आगे चलें वाले बटन पर क्लिक करना होगा।
खाता संख्या या खसरा संख्या
  • ऐसा करते ही आपका फॉर्म आपके नजदीकी पटवारी के पास चला जाएगा,  इस तरह आपका नामांतरण हेतु आवेदन पूर्ण हो जाएगा।

नामांतरण के लिए किस प्रकार आवेदन तथा सलग्न हेतु जरुरी दस्तावेज

नामांतरण के लिए किस प्रकार आवेदनसलग्न हेतु जरुरी दस्तावेज
बैंक से लिए गये ऋण का नामांतरण दर्ज करने हेतुपंजीकृत रहन पत्र
गैर पंजीकृत रहन पत्र
रहनमुक्त (ऋणमुक्त) का नामांतरण दर्ज करने हेतुमूल रहनमूक्त पत्र
विरासत का नामांतरण दर्ज करने हेतुमृत्यु प्रमाण पत्र
प्रमाणित वारिस सजरा
हकत्याग का नामांतरण दर्ज करने हेतुपंजीकृत हक़त्याग पत्र
उपहार का नामांतरण दर्ज करने हेतुपंजीकृत उपहार पत्र
नाबालिग से बालिग का नामांतरण दर्ज करने हेतुतहसीलदार या उच्चाधिकारी का नाबालिक से बालिग दर्ज करने का आदेश
आयु के प्रमाण स्वरूप फोटो पहचान पत्र की प्रति
नोट :- उपरोक्त दस्तावेज एक ही पी.डी.एफ. फाईल में सम्मिलित करके तैयार रखें, इसके बिना आवेदन स्वीकार नहीं किया जायेगा)

कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

नामांतरण क्या होता है?

नामांतरण एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसके तहत भूमि के मालिक के नाम को दुसरे मालिक के नाम पर ट्रांसफर किया जाता है.

राजस्थान में नामांतरण कितने दिन में हो जाता है?

भू-राजस्व संहिता की धारा 110 के अंतर्गत अविवादित नामांतरण की स्थिति में 30 दिवस के अंदर नामांतरण आदेश जारी कर दिया जाता है.

रजिस्ट्री के बाद जमीन का नामांतरण कैसे होता है?

जमीन की रजिस्ट्री कराने के बाद दाखिल ख़ारिज के लिए आवेदन करना बेहद ही जरुरी होता है, ताकि आप उस जमीन के मालिक बन जाएं, दाखिल ख़ारिज को ही नामांतरण कहा जाता है.

निष्कर्ष

इस लेख में हमने राजस्थान के लैंड रिकॉर्ड पोर्टल पर नामांतरण प्रक्रिया के बारे में चरणबद्ध तरीके से जानकारी दी है, उम्मीद है, आपको इस लेख से मदद मिलेगी.

राजस्थान भू नक्शा कैसे देखें?नामांतरण की स्थिति कैसे देखें?
नामांतरण के लिए आवेदन कैसे करें?eMitra लॉगिन कैसे करें?
राजस्थान में भूलेख कैसे देखें?-